Affiliate Marketing क्या है | Guide in Hindi

इस बढ़ती digital दुनिया के साथ Affiliate marketing भी हमारे देश में तेजी गति से बढ़ता जा रहा है। दिन पर दिन जैसे ही sales की दुनिया में लोगो का आकर्षण बड़ने लगा है। वैसे ही बड़ी बड़ी कंपनियों को अपने products को ज़्यादा से ज़्यादा प्रोत्साहित करने की जरूरत पड़ रही है।

Amazon, flipcart, जैसी बड़ी बड़ी online कंपनियों ने affiliate marketing के द्वारा अपने products को ज़्यादा से ज़्यादा लोगो तक पहोचाने का निर्णय लिया।

अब यह बड़ी बड़ी कंपनियों ने अपने webpage पर affiliate marketing का program तयार किया। जिस से जुड़ कर आप बड़ी ही आसानी से एक affiliate marketer बन सकते हो। और amazon, flipcart जैसी दुनिया भर में मशहूर कंपनियों के साथ paid partnership कर सकते हो।

Affiliate marketing in Hindi क्या है ?

Affiliate marketing online पैसे कमाने का एक आसान और रोमांचक मौका है। जिस से जुड़ने के लिए कोई भी degree के certificate की जरूरत नहीं। बस आप में marketing skills होना चाहिए।

एफिलिएट मार्केटिंग का मतलब यह है कि बड़ी बड़ी कंपनियों के products और website को अपने हिसाब से प्रोत्साहित करना।
बस आपको उनके दर्शाए गए products और service को अपने platform पर promote करना होता है।

जब कोई आपके promotion platform के link से जा कर वो product की खरीदी करता है। तो आपको उस product के revenue में से कंपनियों द्वारा कुछ commission दिया जाता है। और इसे कहते है (affiliate marketing revenue).

इसमें आपका काम सिर्फ इतना होता है कि आपको अपने दर्शकों को उनके products के बारे में बताना होता है।

Ex – मान लीजिए कि आप एक affiliate marketer है, और आपने promotion के लिए mobile products को चुना। तो बस अब आपको अपने दर्शकों को उस मोबाइल से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करनी होगी, जिससे वे मोबाइल खरीदने के लिए उत्साहित हो जाए।

Affiliate marketing से पैसे कमाना तो आसान है, पर आप यह मत सोचिए कि आप इससे बहुत जल्द पैसे वाले बन जाएंगे। इसका मतलब यह भी नहीं कि आप कुछ नहीं कमा पाओगे, यह तो सब आपकी knowledge और मेहनत पर ही निर्भर है।

अगर आप भी affiliate marketing की शुरवात करना चाहते हो, तो यह लेख को पूरा पड़े और अच्छे से समझिए।

Affiliate marketing कैसे करनी है ?

Affiliate marketing in hindi की शुरवात करने के लिए सबसे पहले आपको affiliate program के साथ जुड़ना होगा। Amazon, flipcart या किसी भी company के affiliate program से जुड़ कर आप शुरवात कर सकते हो।

Affiliate program को join करने के बाद आप एक affiliate marketer केह लाओगे। अब आपको अपनी knowledge अनुसार उस product को चुनना होगा, जिसे आप promote करना चाहते हो।

( ऐसे ही product को चुने जिसके बारे में आपको जानकारी हो, और आप वो जानकारी दर्शकों तक पहुंचा सके। )

Product को चुनते ही, कंपनी द्वारा आपको उस product के संबंधित एक code दिया जाएगा। साथ ही साथ आपको banners, text link भी दिए जाएंगे। जिसका इस्तेमाल कर आपको उस product को promote करना है।

अब आपको दिए गए code को अपने promotion platform पर बस copy paste करना है।

जब कोई customer आपके दिए गए link पर click करेग, वो company ( amazon, flipcart ) के webpage पर redirect हो जाएगा। जहा से वे product buy करेगा। उनके product खरीद ने पर आपको commission दिया जाएगा।

हम उम्मीद करते है कि आपको affiliate marketing कैसे करनी है, पूरा समझ आ गया होगा।

Affiliate marketing क्यू करनी चाहिए।

जैसे कि हमने पहले आपको बताया कि इस digital duniya में affiliate marketing की demand दिन पर दिन तेजी गति से बढ़ती जा रही है। छोटी से छोटी company भी आज affiliate marketing का इस्तेमाल कर अपने products का promotion कर रही है।

इसलिए दुनिया भर में इसकी demand कहीं गुना तक बड़ चुकी है।
और इसी कारण कहीं बेरोजगारों को कमाने का मौका भी मिल गया है।

तो चलिए जानते है कुछ बाते, affiliate marketing करने के फायदे।

1) No need of investment.

Affiliate marketing की शुरवात करने के लिए आपको किसी भी तरह के investment ( धन भोक्तान ) की जरूरत नहीं है। आप इसकी शुरवात बड़ी ही आसानी से और बिना किसी पैसे के कर सकते हो।

और आपको इसके लिए किसी भी तरह की office या फिर employee की भी जरूरत नहीं। आप अकेले ही बड़ी ही आसानी से पूरा काम कर सकते हो।

2) No need to face customer issues.

Products से सम्बन्धित किसी भी ग्राहक की शिकायत आपको देखने की कोई ज़रूरत नहीं। क्युकी आपके द्वारा सारे बेचे गए products आपके नहीं है, आप तो बस एक affiliate marketer हो।

इसलिए ग्राहक की शिकायत amazon, flipcart जैसी बड़ी बड़ी कंपनिया देखेगी, जिनके वे products है। हमारा काम सिर्फ products का promotion करना होता है।

3) No need to shipping or storage.

जब भी हम कोई products की selling करते है, तो हमे उस products को सही समेत रखने के लिए एक स्थान कि ज़रूरत होती हैं। जहा पर हम वे products को सही समेत रख सके, और ज़रूरत पड़ने पर customer तक पहुंचा सके।

पर affiliate marketing में ना ही आपको कोई स्थान की जरूरत है, और ना ही किसी products की shipping का टेंशन। क्युकी product हमारा नहीं है, तो मतलब यह काम भी हमारा नहीं है।

Products को सही समेत भी company रखेगी और उस product को customer तक पहुंचाने की जिमेदारी भी company ही लेगी।

यह एक सबसे बड़ा फायदा है कि ना ही आपको storage का टेंशन और ना ही shipping का।

4) Work from Home.

( कितना अच्छा होता कि में अपना सारा काम अपने घर बैठे ही कर पाता )

जैसे कि हमने आपको पहले बताया की आपको ना ही किसी office space की जरूरत है, और ना ही किसी employee की जरूरत है।

अगर कुछ चाहिए तो बस एक internet connection और computer, जिसका इस्तेमाल कर आप बड़ी ही आसानी से घर बैठे affiliate marketing कर सकते हो।

5) Earn Passive income

जैसे कि हम सब जानते है कि अगर हम कहीं job करते है, तो हमारा एक fixed time होता है, और हमे उसी के हिसाब से पगार दी जाती है।

लेकिन affiliate marketing in hindi में ऐसा नहीं है। यह पर कोई fixed time नहीं होता, आप जब चाहें तब काम कर सकते और जब चाहे तब नहीं। इसमें आप online रहोगे तब भी आपको पैसा मिलेगा और online नहीं रहोगे तब भी आपको पैसा मिलेगा।

मतलब कि इसमें हम खुद के boss होते है। ना ही किसी का order होगा, ना ही किसी की request। जितनी मेहनत आप करोगे उतना ही आपको पैसा मिलेगा।

Affiliate marketing से पैसे कैसे कमाएं ?

१) अपने ज्ञान अनुसार products का चुनाव करें।

बहुत से नए affiliate marketer, शुरवात में ही बहुत से affiliate program के साथ जुड़ जाते है। फिर वो तरह तरह के अनेक products को एक ही साथ promote करने लगते है। जिससे उनका single category focus नहीं रह पाता। और वे affiliate marketing करने में नाकाम हो जाते है।

पर आपको ऐसा नहीं करना है, आपको अपने ज्ञान अनुसार किसी भी एक category के product का चुनाव करना है। जिसके बारे में आप दर्शकों को समझा सको, और उन्हें वे product खरीद ने किए उत्साहित कर सको।

२) अपने चुने हुए products की demand को समझे।

Affiliate marketing in hindi से अच्छे पैसे कमाने के लिए। पहले तो आप देखिए की कौनसे product की मांग ज़्यादा है। कोई भी ऐसे product का चुनाव ना करे जिसकी मांग कम हो।

क्युकी अगर आप ऐसे product का चुनाव करोगे जिसकी demand बहुत कम हैं। तो फिर आप ज़्यादा पैसे नहीं कमा पाओगे या फिर कुछ भी नहीं कमा पाओगे।

अगर product की मांग ही नहीं होगी, तो आपके द्वारा खरीदेगा कौन।

इसलिए अपने ज्ञान के अनुसार, आप कोई ऐसा product ही चुने। जिसकी मांग ज़्यादा हो। और आप उससे ज़्यादा से ज़्यादा पैसे कमा सको।

3) ज़्यादा से ज़्यादा traffic पाने के लिए अलग अलग sources का इस्तेमाल करे।

एक और गलती जो नए affiliate marketer हमेशा करते है। जैसे कि हम सब जानते है कि एक नए platforms पर traffic आने के लिए थोड़ा वक़्त लगता है। पर कुछ लोग जल्दी traffic पाने के लिए google adwords का इस्तेमाल करते है। वैसे तो यह ग़लत नहीं।

पर शुरवात ही में, इतने पैसों का इस्तेमाल करना सही नहीं। जबकि ऐसे बहुत से sources है, जिसका इस्तेमाल कर आप अपने webpage में ज़्यादा से ज़्यादा traffic ला सकते हो।

जितना ज़्यादा traffic होगा, उतना ज़्यादा ही sales भी होगा। आप google adwords का भी इस्तेमाल कर सकते हो, पर पहले आप देखिए कि इसका इस्तेमाल करने पर आपको कुछ profit हो रहा है या नहीं। अगर आपको profit दिखाएं दे, तो इसे जारी रखे।

4) नई तकनीक और तरीको का इस्तेमाल करे।

हम सब जानते है कि अभी market में competition कितना है।
और अभी पैसा कमाने के लिए रोज़ रोज़ नई नई टेक्नीक और तरीको का जन्म हो रहा है।

इसलिए आप सब भी नई तकनीक और तरीको के साथ ही चले।
ऐसा ना हो कि टेक्नीक आगे निकल जाए और हम सब खाली देखते ही रह जाए।

5) अपने अभियान की परीक्षा ले और उसे track करे।

अपने काम को अंजाम देने के लिए एक ही अभियान का इस्तेमाल ना करे। पहले तो आप तरह तरह के तरह के अभियान plan करले।

अभी एक एक कर सभी अभियान का इस्तेमाल करके देखे। की कौनसा अभियान आपके लिए ज़्यादा फायदेमंद हो रहा है। और किस्में आपको ज़्यादा से ज़्यादा profit हो रहा है।

अगर हम text link और banner ads के बीच की बात करे तो। Banner ads दर्शकों का attention खींचने में ज़्यादा फायदेमंद रहा है।

इसलिए आप अपने progress को track करे ताकि आपको पता तो चले कि आप फायदे में है, या नुकसान में।

6) कोई भी product promote करने से पहले, सही merchant की तलाश करे।

अब यह merchant कौन होते है ? Merchant वो होते है, जिनके products हम promote करते है।

इसलिए सबसे पहले अपने products के merchant को जाने, मतलब कि उनकी service कैसी है, उनका behaviour कैसा है।क्युकी अगर customer को product खरीदने के बाद अच्छी service नहीं मिलेगी, तो वे दुबारा कभी आपकी site पर आके product नहीं खरीदेगे।

इसलिए merchant की service अच्छी होना ज़रूरी है। जब service अच्छी होगी, तो customer happy होगा। जब customer हैप्पी होगा, तब ही वे दुबारा आपकी साइट पर आना चाहेगा।

7) ज़रूरी उपकरण का इस्तेमाल करे।

हम सब जानते कि आज की इस digital दुनिया में competiton कितना बड़ गया है। उसी के साथ ही साथ काम को आसान बनाने के लिए, तरह तरह के उपकरण आ गए है।

अच्छे उपकरण का इस्तेमाल करने से आपको आसानी होगी, और आपको ज़्यादा से ज़्यादा पैसा कमाने का मौका भी मिल जाएगा। ( Essential tools for affiliate marketing )

Promotion के लिए किस platform का इस्तेमाल करे ?

Platform का चुनाव करना आपके ऊपर होता है। आप अपनी ज़रूरत अनुसार ही platform को चुने।

Platform को चुन ना इसलिए जरूरी है, क्युकी affiliate program से जुड़ने के लिए आपको form में अपना platform प्रस्तुत करना होगा।

अगर आप product से सम्बन्धित videos बनाकर प्रचार करना पसंद करते है, तो आप youtube का इस्तेमाल कर सकते है। Youtube पर videos डालकर description में link submit करले।

और अगर आप videos बनाने में shy feel करते है, तो आप website बना कर भी, product से सम्बन्धित जानकारी लिख कर उस product का प्रचार कर सकते है।

अपने affiliate marketing के business को आगे कैसे बड़ाए ?

1) अपने customer के साथ अच्छे संभंध बनाए।

Affiliate marketing in hindi की शुरवात करने पर आपको बहुत मेहनत करनी पड़ेगी। कभी कबार website पर traffic जल्दी से आ जाता है, और कभी थोड़ा वक़्त लगता है। तो आप निराश ना होए, सब्र रखे आपकी मेहनत ज़रूर रंग लाएगी।

जब आपकी website पर ट्रैफिक आने लगेगा तब आपके customer बनने लगेंगे। अब पहले तो अपने customer से अच्छे संबंध बनाए। क्युकी जब customer से अच्छा संभंध होगे, तो वे आप पर भरोसा करेगे। और उनकी आगे की सारी shopping आपके द्वारा ही होगी।

इसी तरह आपका affiliate marketing business भी बढ़ता जाएगा।

2) दूसरे affiliate marketers से सीख ले।

हमें किसी भी काम में अपनी knowledge या अपनी ताकत पर गुरूर नहीं करना चाहिए। क्युकी हर इंसान अपने आप में एक अच्छा इंसान होता है।

इसलिए इस काम में भी आप दूसरे experienced affiliate marketer की मदद ले, उनसे knowledge लेने की कोशिश करे।

Internet पर तरह तरह के discussion forum मौजूद है, जिनका इस्तेमाल कर आप बड़ी ही आसानी से अपने सवालों के जवाब पा सकते हो, या फिर किस और के सवाल का जवाब दे सकते हो। और यह सारे forum बिल्कुल मुफ्त होते है।

बस एक बात का खयाल रखें कि किसी को भी अपने से कम मत समझे। शायद ऐसा कुछ हो जो आप नहीं जानते, और वे जानते हो।

3) अपने web पर traffic को बड़ाने का प्रयास करते रहे।

किसी भी products की sales के लिए, traffic तो ज़रूरी है। क्युकी अगर traffic ही नहीं होगा। तो आपसे product खरीदेगा कौन।

इसलिए अपने website पर traffic बड़ाने का प्रयास करते रहे।

  • Free advertising –

Internet पर ऐसे बहुत से website है , जो आपको free advertisement करने का मौका देते है।

Free advertise करने से आपके website पर traffic बड़ने लगता है, और जब traffic बढ़ेगा तब आपकी sales भी बढ़ेगी।
इसलिए ऐसे मौकों का इस्तेमाल जरूर करे।

  • Paid advertising –

अगर आपके पास शुरवात में अच्छा investment है तो, आप paid advertise करके अपने website पर अच्छा traffic ला सकते हो।

PPC ads इस्तेमाल करने से, कोई आपकी website से कुछ खरीदे या नहीं, पर आपको पैसा तो मिलेगा ही।

  • Email marketing –

ईमेल marketing एक permanant solution है। Email subscription form का इस्तेमाल कर आप अपने visitors के साथ email के जरिए हमेशा के लिए जुड़ सकते हो।

जब भी आपके website पर कोई editing होगी, तब तब आपके visitors को एक email मिलेगा।

जिनसे वे आप के साथ हमेशा जुड़े रेेह सकते है।

4) quantity की जगा quality को चुने।

ऐसे affiliates program को ही चुने, जो आपको quality product प्रदान करे। Quantity की पीछे ना भागे।

क्युकी customer हमेशा quality देखते है, इसलिए आप भी quality को ही चुने। ताकि आपके customer आपसे happy हो।

किस हिसाब से payment दी जाएगी ?

आपके platform का performance company द्वारा track किया जाएगा। पैसे कमाने के लिए आपको हमेशा product को sell करना ज़रूरी नहीं है। क्युकी अलग अलग company की अलग अलग ज़रूरतें होती है।

Pay per click ( PPC ) –

Ppc में ऐसा होता है, की जब भी कोई आपके दिए गए link पर click कर company के page पर जाता है। तो तुरंत ही आपको पैसे मिलते है।

फिर visitors चाहे product की खरीदी करे या ना करे। इसमें आपको link पर clicks का पैसा दिया जाता है।

Pay per sale ( PPS ) –

जब कोई आपके दिए गए link से company के page पर जा कर कुछ buy करता है। तो उस product के revenue में से आपको कुछ हिस्सा commission की तौर पै दिया जाता है।

और यह आपका PPC payment होता है।

Pay per lead ( PPL )

जब कोई visitor आपके दिए गए लिंक से customer के page पर जा कर, अपनी contact details submit करता है।

तो तुरंत ही आपके account में pay per lead के तौर पै पैसे जमा करा दिए जाते है।

आखरी शब्द

हम उम्मीद करते है कि अब तक आपको पता चल गया होगा, की affiliate marketing in hindi क्या है, और इससे पैसे कैसे कमाना है।

पहले तो सही merchant का चुनाव करें। उसके बाद अच्छे और अपने ज्ञान के अनुसार product का चुनाव करें। हो सकता है आप पहेली बार में सफल ना हो, तो निराश ना होए। अपनी गलतियों से सीख कर फिर से कोशिश करे।

यह बात का ध्यान रखे की दूसरे experienced affiliate marketers की मदद ले, ताकि आपके confusions दूर हो जाए।

इस बढ़ती डिजिटल दुनिया में affiliate marketing की demand दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। इसलिए इसमें आप अपना एक अच्छा भविष्य बना सकते हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.